सेक्स चेंज सर्जरी के लिए नहीं दिए पैसे तो GAY शख्स ने पूरे परिवार को मार दी गोली!

0
150

दोस्तों हर‍ियाणा की रोहतक पुलिस ने चार हत्याओं के आरोपी अभिषेक को लेकर कई सनसनी खेज खुलासे किए हैं। सेक्स चेंज करवाने के लिए जब पर‍िवार वालों ने पैसे देने से मना कर दिया तो उसने अपने पूरे पर‍िवार की हत्या कर दी थी। हरियाणा के रोहतक में एक कलयुगी बेटे ने अपने परिवार की हत्या इसलिए कर दी क्योंकि वह समलैंग‍िक था और वह अपना सेक्स चेंज करवाने के किये परिवार से पांच लाख रुपये की मांग कर रहा था, परिवार ने सेक्स चेंज करवाने के लिए जब पैसे देने से मना कर दिया तो उसने अपनी मां, बहन, पिता की हत्या की योजना बना डाली। आरोपी अभिषेक व उसके साथी कार्तिक लठवाल के अनैतिक यौन संबंध के वीडियो भी सामने आए हैं।

बता दें क‍ि क्राइम टीवी सीरियल देखकर इस युवक ने 27 अगस्त को मां बबली, बहन नेहा उर्फ तन्नू,पिता प्रदीप उर्फ बबलू पहलवान व नानी रोशनी की सिर में गोली मार दी। मां, बहन, नानी की मौके पर मौत हो गई जबकि बहन की दो दिन बाद पीजीआई रोहतक में मौत हो गई। हत्या के बाद वह अपने साथी को होटल में ले गया जहां होटल के सीसीटीवी में अपने साथी के साथ आता-जाता कैद हो गया था।

पुलिस ने उसे बार-बार बयान बदलने के शक के आधार पर पूछताछ की तो उसने चारों की हत्या करने की बात कबूल की।31 अगस्त को पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया जहां कोर्ट ने उसे पांच दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया। रव‍िवार को आरोपी अभिषेक की पांच दिन की रिमांड पूरी होने के बाद सोमवार को रोहतक कोर्ट में पेश होगी।पुलिस रिमांड में उसने और सनसनी खुलासे किए है। जिस पिस्टल से चारों को गोली मारी, वह उसके पिता का अवैध पिस्टल थी। पिता प्रॉपर्टी डीलर था, इसे हथियार रखने का शौक था।

पुलिस ने हत्याओं में इस्तेमाल प‍िस्टल को जेएनएल  नहर के पास झाड़ियों से बरामद कर लिया है। आरोपी ने हत्या करने के बाद योजनाबद्ध तरीके से मां-पिता के शव से सोने के ज्वैलरी भी उतारी ताकि उस पर शक न हो। वह सभी की हत्या कर अपने साथी के साथ प्रॉपर्टी बेच कर विदेश भागना चाहता था। आरोपी ने अपने साथी को इन मर्डर के बारे में कुछ नहीं बताया था। उसने अकेले ही ये हत्याएं की हैं,उसके दोस्त की इन हत्याओं के बारे में पता हो, ऐसा अब तक जांच में सामने नहीं आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here