कुएं से अचानक निकलने लगा गर्म पानी, गांव में फैली दहशत, बाल्टी छोड़कर भागे लोग, प्रशासन ने जांच के लिए भेजे सैंपल!

0
21

दोस्तों महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के एक कुएं से गर्म पानी निकलने का मामला सामने आया है। इसके बाद से कुआं और उसका मालिक चर्चा का विषय बना हुआ है। लोग तसल्ली करने के लिए कुएं के पानी को निकालकर हाथ से छूकर देखने पहुंच रहे हैं। बुलढाणा जिले के संग्रामपुर तहसील के अकोली नामक गांव में रहने वाले भानुदास सालुंकि के घर में उनका 40 फीट गहरा एक कुआं है, जो उन्होंने 14-15 वर्ष पहले बनवाया था। 14 जुलाई को भानुदास ने अपने कुएं से पानी निकाला तो वह हैरान रह गए कि कुंए का पानी इतना गर्म क्यों है।

उन्होंने दोबारा कुएं से पानी निकाला और उसे छूकर देखा तो वह भी गर्म था, जिसके बाद वह घबरा कर रस्सी और बाल्टी छोड़कर भाग गए। बस फिर क्या था। पूरे गांव में यह खबर हवा की तरहफ फैल गई। दूर-दूर से लोग पानी को छूकर तसल्ली करने के लिए आने लगे। तहसील प्रशासन को भी कुएं से गरम पानी निकलने की खबर मिली। तहसीलदार अपनी टीम के साथ कुएं के निरीक्षण के लिए पहुंचे। उन्होंने भी पानी में हाथ डालकर चेक किया तो उन्हें भी अहसास हुआ कि कुएं से जो पानी निकाला जा रहा है, वह काफी गर्म है। सबसे ज्यादा हैरानी की बात यह है कि जिस कुंए से गर्म पानी निकल रहा है, उससे 15 से 20 फिट की दूरी पर दूसरा कुआं है, जिसका पानी साधारण है। तहसीलदार ने दोनों कुएं के पानी के सैंपल जलगांव-जामोद की प्रयोगशाला में भेज दिए हैं, अब रिपोर्ट आने पर ही पता चलेगा कि कुएं के पानी के गर्म होने के पीछे क्या राज है।

कुएं के मालिक भानुदास सोलंकी ने बताया कि 10 से 12 साल पहले यह कुआं खुदवाया था। अभी तक ठीक से पानी आ रहा था, लेकिन पिछले 14 जुलाई से पानी अचानक गर्म आ रहा है। पानी इतना गर्म है कि नहाने के लिए उसमें ठंडा पानी मिलाना पड़ रहा है। गांव की महिला का कहना है कि हम इस कुएं का पानी पीने के लिए इस्तेमाल करते थे, अचानक पानी गर्म आ रहा है, जिससे हम और गांव बाकी लोग दहशत में आ गए हैं। आखिर क्या हुआ, कहीं तेजाब तो नहीं निकल रहा है। वही भूलजल सर्वेक्षण विभाग विश्वास वालदे ने कहा, ‘तहसीलदार ने मुझे अकोली गांव के कुएं से निकल रहे गर्म पानी की सूचना दी। मैंने उन्हें कहा कि गर्म पानी आने वाले कुएं और पास के दूसरे कुएं के पानी के सैंपल जलगांव-जामोद में स्थित पानी की प्रयोगशाला में भेज दें। रिपोर्ट आने पर पता चलेगा कि क्या कारण है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here