गुत्थी के किरदार से फेमस हुए सुनील ग्रोवर कभी 500 रूपये महीने में करते थे काम, आज है टीवी के पॉपुल पॉपुलर सितारे!

0
82

दोस्तों जाने माने कॉमेडियन एक्टर आज सुनील ग्रोवर का जन्मदिन है। सुनील ग्रोवर का जन्म 3 अगस्त 1977 को हरियाणा के सिरसा में एक पंजाबी फैमिली में हुआ था। सुनील ग्रोवर कपिल शर्मा के साथ ‘कॉमेडी नाइट्स विद कपिल’ में गुत्थी और ‘द कपिल शर्मा शो’ में डॉक्टर मशहूर गुलाटी के किरदार में दर्शकों का मनोरंजन करते थे। कॉमेडी टीवी शोज पसंद करने वाला शायद ही ऐसा कोई हो, गुत्थी, जो रिंकू भाभी और डॉक्टर मशूहर गुलाटी के नाम से परिचित न हो। कॉमेडियन सुनील ग्रोवर की पहचान यह कैरेक्टर है।

बता दे की ‘कॉमेडी नाइट्स विद कपिल’ और ‘द कपिल शर्मा शो’ के इसी किरदार ने उन्हें रातों-रात पॉपुलैरिटी दिला थी। लेकिन अब कॉमेडी से हटकर सुनील कुछ अलग किरदारों में भी हाथ आजमा रहे हैं। नजर डालते हैं 3 अगस्त को अपना 44 वां जन्मदिन मना रहे है। सुनील का जन्म 3 अगस्त 1977 को हरियाणा के शहर डबवाली में हुआ था। उन्होंने स्कूली शिक्षा आर्य विद्या मंदिर डबवाली से ली, जबकि आगे की पढ़ाई गुरुनानक कॉलेज से की। सुनील ग्रोवर के पिता जेएन ग्रोवर स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर में मैनेजर थे। अब वे रिटायर हो चुके हैं।

पंजाब यूनिवर्सिटी के थिएटर विभाग से पीजी करने के बाद सुनील एक्टिंग में किस्मत आजमाने मुंबई चले आए थे। टीवी से जुड़ने से पहले सुनील दिल्ली के रेडियो स्टेशन रेडियो मिर्ची में काम कर चुके हैं। उन्होंने रेडियो मिर्ची के लिए उनकी पॉपुलर सीरीज ‘हंसी के फब्बारे’ को होस्ट किया था, जिसमें उनके कैरेक्टर का नाम सुदर्शन था। सुदर्शन को बेहूदा जोक्स को फनी तरीके से पेश करने के लिए जाना जाता था। सुनील ने अपना फ़िल्मी डेब्यू फिल्म ‘प्यार तो होना ही था’ से किया था। उनका टैलेंट मशहूर कॉमेडियन जसपाल भट्टी ने पहचाना था जिसके बाद सुनील को कई शो के ऑफर मिले।

सुनील के सबसे फेमस किरदार गुत्थी के पीछे भी दिलचस्प कहानी है। दरअसल, सुनील को इसकी इंस्पिरेशन अपनी कॉलेज की एक क्लासमेट से मिली थी। क्लासमेट से इंस्पायर होकर सुनील ने गुत्थी के किरदार को जिया और सफलता की सीढ़ियां चढ़ते गए। सुनील के मुताबिक, वह कहीं भी परफॉर्म करने से पहले अपने सारे जोक बीवी आरती को सुनाते हैं। अगर वह हंस पड़ीं तो सुनील उन जोक्स पर परफॉर्म करते हैं और अगर वो नहीं हंसीं तो समझ लेते हैं कि वो जोक ऑडियंस के सामने नहीं चलेगा। सुनील की वाइफ आरती पेशे से इंटीरियर डिजाइनर हैं और दोनों का एक बेटा भी है।

सुनील ग्रोवर ने अपने करियर की शुरुआत साल 1998 में फिल्म ‘प्यार तो होना ही था’ से की थी। इसके बाद सुनील ग्रोवर द लीजेंड ऑफ भगत सिंह, मैं हूं ना, गजनी, जिला गाजियाबाद, गब्बर इज बैक, बागी और भारत में नजर आए हैं। वह वेब सीरीज तांडव और सनफ्लावर में भी काम कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here