कचरे में मिली इन चीज़ो ने कचरा साफ करने वालो को बनाया करोड़पति, जानिए कैसे बदली कूड़ेदान ने इन लोगो की किस्मत!

0
146

दोस्तों दुनियां में ऐसे कई कूड़ा उठाने बाले रहते है जिन्हें कूड़े में कीमती चीजें मिलती है उनमे से कुछ लोगों को तो इतनी कीमती चीजें मिलती है की उन्हें कूड़ा उठाने का काम तो छोडो और कोई काम करने की जरूरत नही पड़ेगी। आज हम आपको कुछ ऐसे ही रियल लाइफ इंसिडेंट बताते है जिसने कूड़ा उठाने बाले को मालामाल कर दिया। क्योंकि किसी एक का कचरा दुसरे के लिए खजाना हो सकता है। आइये जानते है ऐसे लोगो के बारे में जिनको कचरे में मिला करोड़ो खज़ाना।

एअरपोर्टस का सफाई कर्मचारी

नार्थ कोरिया के एअरपोर्ट पर साफ़ सफाई करने बाले कर्मचारी हर रोज की तरह सुबह कचरे के डिब्बे खाली कर रहा था।तभी उनमे से एक डिब्बा काफी भरी भरकम लग रहा था उसे उस डिब्बे को उठाने में भी काफी दिक्कत हो रही थी ऐसा  लग रहा था मानो उसमे किसी ने एक टन से ज्यादा का कचरा डाल दिया हो। अंदर इतना भारी क्या है जब वो कचरे को आजू बाजू करने लगता है तब उसे कागज के बैग में सामान मिला उस समान को देखकर उसके पैरों के निचे से जमीन ही खिसक गई उसे उस पेपर के अंदर सात सोने के बार्स मिले जो तकरीबन 2 करोड़ 70 लाख के थे। इसमें कोई डाउट नही है की यह कोई बड़ी रकम है पर इसे एक सवाल सामने आता है आखिर क्यों कोई इतने महंगे सोने को कचरे में फैंक देगा। आपको क्या लगता है यह हमे कमेंट में जरूर बताइयेगा। अछि बात यह है की कोई भी उस सोने को आगे लेने नही आया और पुलिस ने भी यह घोषित कर दिया की वो किसी क्राइम से तालुक नही रखता। इसलिए वो सफाई कर्मचारी उस सोने को खुद रख सकता है।

  हाइवे क्लीनर

हाइवे की साफ़ सफाई करने बाले हमेशा रोड के बाजू में पड़े खराब टायर साफ़ करते है पर हर किसी सफाई करने बाले को टायर में 71 लाख रखे हुए नही मिलते और ऐसा ही कुछ हुआ इंटर स्टेट इंडिआना पुलिस में। दो कचरा सफाई करने बाले को उनकी जिंदगी बदलने बाली रकम मिली और वो भी एक टायर में पड़े हुए और उन्होंने वो पैसे पुलिस को सोंप दिए। लोगों का कहना है की यह पैसे गाडी के पीछे लगे हुए स्पेयर टायर में रखे हुए थे जो गलती से हाइवे में गिर गया और वो यह सब शायद पुलिस की नजरों से बचने के लिए कर रहे होंगे। ऐसी तर्किव वहां पर ड्रग स्मगलर करने के लिए काफी प्रसिद्ध है। कोई वहां सामने आकर उन पैसों पर हक़ नही जमाता तो वो सारे पैसे उन कचरे वाले को दे दिए जाएंगे।

कचरे में पड़ी मिली करोडो की पेंटिंग

एलीजाबेथ एकदिन घुमने गई थी तभी उसे एक जगह पर काफी सारा कचरा दिखा जिसमे एक बड़ी पेंटिंग भी थी उसे वो पेंटिग पसंद आई उसने उसे उठाया और अपने घर ले आई फिर काफी दिन बीतने के बाद उसने यह ढूँढना शुरू किया की आखिर इसे किसने बनाया है इसलिए उसने थोडा रिसर्च किया तब उसे पता चला की। उसे एक काफी जानेमाने मक्सिकन रुफिगो टेमेगो ने 1970 में बनाया था जिसका नाम क्रेड परसोना था बाद में यह बात पता चली की उस पेंटिंग को चुराया गया था चोंकाने बाली बात यह थी की वो पेंटिंग ऑक्शन में एक मिलियन डॉलर में बेचीं गई जोकि भारत के 7 करोड़ 17 लाख के बराबर है।

कचरे के ढेर में मिला करोड़ो का मोती 

कचरे का ढेर जिसका नाम है स्मोकि माउंटन फिल्लिपिन के समुद्र किनारे बसा हुआ है। एक दिन एक मछुआरे को एक काले रंग के पथर जैसे एक चीज दिखाई दी जिसके अंदर उसे मोती मिला उसे पता भी नही था वो मोती असली है या नकली फिर बाद में उसने उसे कई सालों तक ऐसे ही रखा और एक दिन उसके घर में आग लग गई इसलिए उसने सारे सामान को घर से बाहर निकाल दिया बाद में पैसों की कमी होने की बजह से वो अपना सामान बेचने लगा। तब वो उस मोती को भी एक दुकानदार के पास लेकर गया जो उसने कहा उससे मछुआरे के पैरों के निचे से जमीन ही हिल गई।उस मोती की कीमत 10 करोड़ रूपए थी। किसी को पता भी नही था घर पर धुल खा रहा मोती इतना कीमती हो सकता है इसलिए अगली बार घर पर रखी वस्तु को अछे से जांच लें। क्या पता शायद वो आपको करोडपति बना ले। यदि आपको इतने पैसे मिले तो आप उन पैसों का क्या करेंगे आप हमे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

बाथरूम कैश

एक घर मालिक ने वोक किड नामक सिविल इंजिनियर को अपना घर रीएनोवेट करने का कांट्रेक्ट दिया पर वोक को आगे क्या होने बाला था उसकी थोड़ी सी भी भनक नही थी। जब वोक 80 साल पुराने घर की दिवार को तोड़ रहा था तभी उसे उन दीवारों में एक बॉक्स मिला जिनके अंदर 1920 के लिफ़ाफ़े पड़े हुए थे। जिनके अंदर 1 करोड़ 30 लाख पड़े हुए थे। उन लिफाफों पर न्यूज़ एजेंसी का एड्रेस लिखा हुआ था बाद में पता चला की वो पैसे एक बेटरी वयुन नाम के एक बिजनस मैन के थे। जो उसने टैक्स बचाने के लिए बाथरूम की दीवारों में छुपा के रखे हुए थे। जब वोक को यह पैसे मिले तो वोक ने यह जानकारी घर मालिक को बताई उसने सोचा की इसे लीगल तरीके से एक दुसरे के साथ बाँट लेना चाहिए। पर तभी से बातें बिगड़ना शुरू हो गई घर का मालिक वोक को सिर्फ 10% पैसे ही दे रहे थे जबकि वोक 40% पैसों की मांग कर रहा था। फिर दोनों ने लोयर हायर करके केस लड़ा जज के फैंसले ने सबको नाखुश कर दिया उन पैसों को 21 कामगार और घर मालिक में बराबर बंटा गया।

पुराने गैराज में मिले सोने और चांदी के सिक्के

जॉन नामक व्यक्ति ने एक गैराज खरीदा वो गैराज काफी बुरी हालत में था इसलिए उसे लगा की यह कम कीमत में मिल जाएगा उसे उसके लिए 75 हजार रूपए भरने पड़े पर आगे उसके लिए क्या इंतज़ार कर रहा था यह शायद उसे पता नही था बेचे जाने से पहले वो गैराज एक बूढी महिला का था उस गैराज के अंदर जॉन को काफी सारे पुराने सिक्के मिले जोकि काफी दुर्मिल थे और उस गैराज में चांदी के कई सारे बार्स भी थे। वो डिब्बे इतने भारी थे उन्हें उठाने के लिए जॉन को तीन आदमियों को लाना पड़ा। यह गैराज जॉन को एक ऑक्शन में मिला जोकि अमेरिका ऑक्शन द्वारा रखा गया था। इस कंपनी का टीवी शो भी है पर बदनसीबी से उस वक्त यह शूट करने के लिए कैमरा अवेलेबल नही था। तो अगली बार कोई अपने गैराज को बेचने निकले तो उसके अंदर की चीजों को जरूर एक बार देख ले।

डिब्बे में भरे हुए मिले बेशकीमती सिक्के

एक दिन एक दम्पति अपने कुत्तों को घुमाने के लिए बाहर ले गया। ऐसे ही घूमते घूमते उन्हें रोड के बाजू में कुछ चमकदार चीजें दिखाई दी फिर बाद में उन्होंने उसे बाहर निकालने का सोचा जब उन्होंने डिब्बों को बाहर निकला तो उन्हें 8 डिब्बे पुराने सिक्कों से भरे हुए मिले यह कोई आम पुराने सिक्के नही थे यह 19 वीं शताव्दी के शुरूआती कॉइन थे जो काफी रेअर थे ये 5 ,10 और 20 डॉलर में बंटे हुए थे। जोकि काफी अच्छी कंडिशन में थे और उनमे से आधे से ज्यादा सिक्के आम लोगों में चलाए भी नही गए थे। वो सिक्के इतने रेयर थे उनमे से कुछ सिक्कों की कीमत आज के समय में 10 लाख से एक करोड़ के बीच में थी। जिस जोड़े को यह सिक्के मिले उन्होंने अपना नाम बताने से मना कर दिया इसलिए अगली बार कुत्ते को ले जाते हुए रास्ते के आजू बाजू जरूर नजर रखना।

नोटो से भरा बेग

बहुत सारी बड़ी बड़ी कंपनियों को नोटों को तवाह करना होता है उनके प्राइवेट रीजन की बजह से और ऐसा करने के लिए वो उन्हें श्रेडर मशीन में डालते है। जो बाद में दुसरे सफाई बालों के द्वरा उठाया जाता है। जिन्हें बाद में वो जला देते है। 2012 में ऐसा ही एक जाप्निज़ कर्मचारी बहुत ही सारी कंपनियों से रद्दी उठा रहा था जोकि बाद में जला दिए जाने बाले थे और उसने उस दिन के सारे बैग्स को गाडी से निकाल दिया उसने देखा की कई सारे बैग्स में नोटों के छोटे छोटे टुकड़े किये हुए थे लेकिन उनमे से एक बैग में सारा पैसा बैसा के बैसा था। शायद वो उन कम्पनी वालों से छुट गया होगा। उस बैग में रखे हुए नोटों की कीमत लगभग 85 लाख के बराबर थी। पर यह बात शायद आपको चोंका देगी की उस कर्मचारी ने वो पैसे खुद को रखने के बजाए किसके है यह ढूँढना शुरू किया। उसने यह बात पुलिस को भी बता दी पर पुलिस भी उन्हें ढूढ़ नही पाई। शायद इन पैसों के मालिक को सामने आना ही नही था। इसका मतलव है की सफाई करने बाले को सारा पैसा रखने को मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here