आदित्य चोपड़ा फिल्म इंडस्ट्री के 30 हजार कामगारों को लगवाएंगे कोरोना टीका, महाराष्ट्र सरकार को लिखा लेटर!

0
78

दोस्तों पुरे देश में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। देश में बढ़ते इस प्रकोप को देख कई फिल्मों और टीवी सीरियल्स की शूटिंग को रोक दिया गया है। महाराष्ट्र सरकार ने भी लॉकडाउन लगा दिया है जिसके बाद महाराष्ट्र में होने वाली सभी शूटिंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसी बीच वैक्सीनेशन का नया फेज शुरू हो गया है ऐसे में  यशराज फिल्म्स ने इंडस्ट्री के मेंबर्स का मुफ्त टीकाकरण करवाने का फैसला लिया।

बता दे की प्रोडक्शन हाउस यश राज फिल्मस ने फिल्म इंडस्ट्री के 30 हजार कामगारों का टीकाकारण करवाने का फैसला किया है। प्रोडक्शन हाउस का कहना है कि वे इस वैक्सीनेशन का पूरा खर्च भी उठाएंगे।आदित्य चोपड़ा ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री के कामगारों का टीकाकरण करवाने के लिए महाराष्ट्र के सीएम से 60,000 कोरोना वायरस वैक्सीन खरीदने की इजाजत मांगी है। वाईआरएफ ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से गुजारिश की है कि इन कामगारों के इम्यूनाइजेशन प्रोग्राम को संचालित करने हेतु उनकी फिल्म कंपनी को कोविड-19 की 60,000 वैक्सीन खरीदने दी जाए, जिसका पूरा खर्चा वे खुद उठाएंगे।

FWICE के लेटर के मुताबिक यशराज फिल्म्स ने एम एंड ई इंडस्ट्री के 30 हजार मेंबर्स का वैक्सीनेशन कराने का प्रण लिया है। लेटर में यशराज फिल्म्स ने कहा फिल्म इंडस्ट्री के कई लोग महामारी में बहुत परेशान हो रहे हैं ऐसे में जरुरी है कि यह काम जल्दी शुरू किया जाए ताकि हजारों वर्कर्स जल्द से जल्द दोबारा काम करना शुरू कर सकें। कहते हुए एक पत्र लिखा है कि- “फिल्म इंडस्ट्री इस समय अभूतपूर्व दौर से गुजर रही है. वहीं कर्मचारियों के हेल्प को लेकर भी बात चल रही है. हजारों कामगार रोजाना अपनी जीविका चला पाएं और अपने परिवारों की रक्षा कर सकें इस लिए यशराज फिल्म्स इस संबंध में यश चोपड़ा फाउंडेशन के माध्यम से अपना सहयोग और समर्थन देना चाहती है. हमने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से  लिखित अनुरोध किया है कि वे हमें 30,000 पंजीकृत कामगारों के लिए जल्द से जल्द कोविड-19 की वैक्सीन आवंटित करें और उन्हें खरीदने की अनुमति दें. ये सभी कामगार मुंबई की फिल्म इंडस्ट्री के फेडरेशन से जुड़े सदस्य हैं।”

पत्र में आगे लिखा गया है, “कामगारों के टीकाकरण से जुड़ा हर खर्च यश चोपड़ा फाउंडेशन उठाएगा। इसमें जागरूकता फैलाना, कामगारों को लाना-ले जाना, इम्यूनाइजेशन प्रोग्राम को संचालित करने हेतु जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करना आदि शामिल होंगे। हमें आशा है कि हमारा यह अनुरोध मंजूर कर लिया जाएगा, जिससे हमारे सदस्य सुरक्षित हो सकेंगे और वे जल्द से जल्द काम पर लौटने के काबिल भी हो जाएंगे”। वहीं FWICE के प्रेसिडेंट बी. एन तिवारी ने इस  फैसले की सराहना की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here